Post your Comment
News Title प्रभाष जोशी की प्रासंगिकता
News Summary

विभांशु दिव्याल

मालवा से निकल देश की राजधानी दिल्ली आकर समूची हिंदी पत्रकारिता के पितृ- पुरुष बन जाने वाले प्रभाष जोशी की प्रासंगिकता का प्रश्न उनके व्यक्तित्व-कृतित्व के प्रशस्तिवाचन और नई पत्रकार पीढ़ी को उनका अनुसरण करने का उपदेशामृत पिलाने जैसी विरुदावलि के साथ तो स....
Heading :
Description:
Email ID:
Posted By :
Location:
     
       
Copyright @ 2016 All Right Reserved By Janadesh
Designed and Maintened by eMag Technologies Pvt. Ltd.